डबल मास्किंग का  मतलब होता है दो मास्क पेहेनना. इसमें सर्जिकल मास्क के ऊपर कपड़े  का मस्क पहेना जाता है.

सीडीसी के मुताबिक डबल मास्किंग हवा को लीक होने से रोकती है और हवा को अच्छे से पुरिफाई करने में मदद करती है और इसी प्रकार से यह कोरोनावायरस के संक्रमण से हमे बचाता है. शोधकर्ताओं की माने तो इस तरीके से मास्क पेहेनने से संक्रमण होने की सम्भावना 95% तक कम हो जाती है.

डबल मास्किंग क्या है और वह आपको कोरोना संक्रमण से कैसे बचा सकती है ?

Hand How Double masking can protect you?

डबल मास्किंग करने का सही तरीका क्या है ?

1.     सही मास्क कॉम्बिनेशन का चयन करना अनिवार्य है. सीडीसी के मुताबिक कपड़े और सर्जिकल मास्क का कॉम्बिनेशन सबसे अच्छा और सही मन गया है. अन्य कॉम्बिनेशन का प्रयोग करने से हो सकता है आपको सांस लेने में कठिनाइ हो.

2.     कोशिश करे की 2-3 लेयर वाला कपड़े का मास्क प्रयोग में लाये. यह आपको बेहतर सुरक्षा देगा.

3.     मास्क को कस कर बांधे ताकि वह आपके चेहरे से चिपका रहे.

4.     सर्जिकल मास्क नीचे और उसके ऊपर कपड़े का मास्क पहनें.

5.     सुर्गिगल मसक के लूप्स में एक गाँठ बांध कर उसे टाइट करे और उसके ऊपर कपड़े का मास्क बांध ले .

6.     ध्यान रखे की मास्क अच्छे से बंधा होना चाहिए पर इतना भी टाइट न हो की सांस लेने में कोई दिक्कत आये.

 

आप जब भी अपने घर से बहार जाये डबल मास्क्स पहन कर जाये और अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें.

Hand DNA report on Doubel Maksing

Leave a Reply

Your email address will not be published.